Tuesday, February 23, 2010

विश्वास कैसे हो कि हमारी प्रार्थना सुनी जा रही है

विनय बिहारी सिंह


कभी कभी जब हम भगवान से किसी चीज की प्रार्थना करते हैं तो किसी किसी के मन में आता है कि पता नहीं भगवान हमारी प्रार्थना सुन भी रहे हैं कि नहीं। अगर आप दिल की गहराई से प्रार्थना कर रहे हैं और आपको पूरा विश्वास है कि भगवान आपकी बात मानेंगे तो तय मानिए कि आपका काम होगा। यह सभी संतों ने कहा है। ,,,,, गहरी भक्ति और पूर्ण विश्वास की जरूरत है। हमारे सभी ग्रंथ और ऋषि- मुनियों ने इस बात की पुष्टि की है। लेकिन यह प्रार्थना किसी को नुकसान पहुंचाने के लिए नहीं होनी चाहिए। किसी को कष्ट पहुंचाने के लिए नहीं होनी चाहिए। क्योंकि तब आपकी बात नहीं सुनी जाएगी। लेकिन अगर आप किसी शुभ काम के लिए प्रार्थना कर रहे हैं तो निश्चित मानिए, आपका काम होगा ।

3 comments:

RAJNISH PARIHAR said...

आपने सच कहा....दिल से की गयी प्रार्थना सब जगह सुनी जाती है..निश्चित रूप से..

AlbelaKhatri.com said...

shat pratishat sach !

bahut achha laga .........

jai ho !

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

सत्य वचन्!
सच्चे मन से की गई पुकार कभी निष्फल नहीं जाती....